छत्तीसगढ़रायपुर

अशोका बिरयानी के मालिक कृष्णकांत तिवारी गिरफ्तार, 6 पर गैर-इरादतन हत्या का मामला दर्ज

रायपुर। गटर सफाई के लिए उतरे दो कर्मचारियों की मौत के मामले में अब अशोका बिरियानी के मालिक कृष्णकान्त तिवारी की गिरफ्तारी की गई है । इस पुरे मामले में गृहमंत्री विजय शर्मा ने नाराजगी जताई थी जिसके बाद प्रबंधन के खिलाफ प्रशासन ने पहले ही सख्त कार्यवाही करते हुए उसके सभी आउटलेट शॉप पर सील लगा दिया है। वही अब तेलीबांधा पुलिस ने अशोका बिरयानी के संचालक कृष्णकांत तिवारी के खिलाफ धारा 304, 34 के तहत अपराध दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया। इसके साथ ही वर्तमान में जेल में बंद ब्रांच मैनेजर रोमिना मंडल और जीएम रोहित चंद को रिहा होने के बाद गिरफ्तार किया जाएगा।

 

सीईओ सनाया तिवारी फरार है। इससे पहले पुलिस ने अशोका बिरयानी के संचालक कृष्णकांत तिवारी, सीईओ सनाया तिवारी, जीएम रोहित चंद, ब्रांच मैनेजर रोमिना मंडल पर गैर-इरादतन हत्या का केस दर्ज किया है। बता दें कि शुक्रवार देर रात हंगामे के बाद अशोका बिरयानी प्रबंधन ने मृतक कर्मचारी नीलकमल पटेल और डेविड साहू के स्वजन को 15-15 लाख रुपये मुआवजे का चेक दिया। साथ ही पीड़ित परिवारों को 15-15 हजार रुपए प्रतिमाह देने पर सहमति बनी।

 

मृतक के परिजनों को 15 लाख मुआवजा और हर महीने दिया जायेगा 15 हजार
दोनों मृत कर्मचारी डेविड साहू और नीलकंठ पटेल के परिजन शुक्रवार आधी रात तक आरोपियों पर केस दर्ज करने की मांग को लेकर होटल के गेट पर बैठे थे। इसकी जानकारी मिलने पर गृहमंत्री मिलने पहुंचे। वहां उनके परिजनों ने रोते हुए अपनी फरियाद सुनाई।

उसके बाद वे पुलिस अफसरों पर नाराज हुए। उसके बाद आनन-फानन में पुलिस ने केस दर्ज किया। गृह मंत्री के मौके पर पहुंचने की सूचना मिलने पर कलेक्टर और एसएसपी भी वहां पहुंच गए थे। इसके बाद ही होटल प्रबंधन मृतकों के परिवारवालों को 15-15 लाख रुपए मुआवजा देने के लिए तैयार हुए। होटल प्रबंधन की ओर से ये वादा किया गया कि दोनों परिवारवालों को हर महीने आजीवन 15-15 हजार रुपए गुजारा भत्ता ​भी दिया जाएगा। इस समझौते के बाद मृतक के परिवार वाले शव लेकर गांव रवाना हुए हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×