छत्तीसगढ़

इस्टाग्राम ने करा दी शादी, ना उम्र की सीमा हो ना जन्म का हो बंधन’ गाना हुआ चरितार्थ, जानें पूरा मामला

नेशनल डेस्क। ‘ना उम्र की सीमा हो ना जन्म का हो बंधन’, जब प्यार करे कोई तो देखे केवल मन” ये गाना अपने जरूर सुना होगा। आज कल असल जिंदगी में भी ऐसे मामले देखने को मिलते हैं। ऐसा ही ताजा मामला मध्यप्रदेश से सामने आया है, जहां 80 साल के बुजुर्ग ने 34 साल की महिला से शादी की है। सबसे हैरानी की बात तो ये है कि बुजुर्ग और महिला की दोस्ती सोशल मीडिया पर हुई है। फिलहाल दोनों ने कोर्ट और मंदीर दोनों जगहों पर पूरे रीति रिवाज से सात फेरे लिए हैं।

तो चलिए जानते हैं क्या है आशिक दादा की कहानी?

 

मिली जानकारी के अनुसार मगरिया सुसनेर निवासी बालूराम खेती का काम करते हैं और सोशल मीडिया पर भी बेहद दिलचस्पी रखते हैं। बताया जाता है कि बालूराम की सोशल मीडिया पर लंबी चौड़ी फैन फॉलोइंग है। सोशल मीडिया पर कुछ दिन पहले बालूराम की दोस्ती अमरावती निवासी 34 साल की रामाबाई से हो गई। दोस्ती कब प्यार में बदल गया भनक भी नहीं लगी और दोनों ने शादी करने का फैसला कर लिया।

दोनों ने शादी करने का फैसला करके कोर्ट में शादी के लिए अर्जी दे दी, जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर लिया। फिर तय डेट पर दोनों ने कोर्ट में शादी की। वहीं, न्यायालय परिसर पर ही स्थित हनुमान मंदिर में कपल ने एक-दूसरे को वरमाला पहनाकर हिंदू रीति-रिवाज से भी विवाह रचाया। इस अवसर में महिला और बुजुर्ग के चुनिंदा परिचित लोग भी पहुंचे हुए थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×