छत्तीसगढ़युवाराज्य

कलेक्टर जनमेजय महोबे ने महाविद्यालय का किया निरिक्षण,बिजनेस मॉडल का संयुक्त कार्ययोजना बनाने दिए निर्देश 

महाविद्यालय की शैक्षणिक गतिविधियों सहित प्रायोगिक कार्यों की ली जानकारी

कवर्धा। कलेक्टर  जनमेजय महोबे ने जिले में संचालित प्रदेश के एक मात्र मात्स्यिकी महाविद्यालय स्व. श्री पुनाराम निषाद मात्स्यिकी महाविद्यालय का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान कलेक्टर श्री महोबे ने महाविद्यालय में चल रहे विभिन्न गतिविधियों की जानकारी ली।
कलेक्टर श्री महोबे ने सभी संकायों के जलीय जीव पालन, मात्स्यिकी संसाधन प्रबंधन, मात्स्यिकी आधार विमान एवं मानविकी जलीय पर्यावरण और स्वास्थ्य प्रबंधन एवं मत्स्य दोहन एवं प्रसंस्करण का भ्रमण कर विद्यार्थियों के लिए उपलब्ध सुविधाओं लैब, कक्षाओं, सेमिनार हाल एवं स्वच्छता का अवलोकन किया। साथ ही विभिन्न संकायों में अध्ययनरत् विद्यार्थियों की संख्या की जानकारी ली। कलेक्टर ने कहा कि मात्स्यिकी महाविद्यालय एवं मछली पालन विभाग को मिलकर जिलास्तर पर कृषकों एवं छात्रों के लिए एक कार्यशाला आयोजित करें। जिससे जिले के मछली पालन करने वाले किसानों को इस संबंध में विभिन्न गतिविधियों की जानकारी मिलेगी। इसके साथ ही अन्य नागरिक मछली पालन के प्रति जागरूक होंगे और रोजगार भी मिलेंगे।उन्होंने महाविद्यालय के गतिविधियों को ज्यादा से ज्यादा कृषकों से जोड़ने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने प्राध्यापकों को विद्यार्थियों के पढ़ाई के साथ बिजनेस मॉडल का संयुक्त कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए। जिससे पढ़ाई के साथ व्यवसायिकरण की जानकारी भी विद्यार्थियों को होगी।
कलेक्टर श्री महोबे ने महाविद्यालय के उत्तीर्ण छात्रों की प्लेसमेंट, शैक्षणिक सफलताओं एवं अनुसंधान कार्यों की जानकारी ली। महाविद्यालय के प्राध्यापक डॉ. दुष्यंत कुमार दामले ने बताया कि विद्यार्थियों का शत प्रतिशत प्लेसमेंट हो रहा है। इसके साथ ही विद्यार्थियों द्वारा अनेक उपलब्धियां प्राप्त की गई है। कलेक्टर ने उनकी उपलब्धियों की प्रशंसा करते हुए बधाई और शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि महाविद्यालय परिसर में उपलब्ध स्थान में मछली पालन प्रायोगिक के लिए तालाब का निर्माण कराएं। इस दौरान मछली पालन विभाग के सहायक संचालक  आर. डी. सिंह, महाविद्यालय के प्राध्यापक डॉ. दुष्यंत कुमार दामले, डॉ पवीत्र बारिक, डॉ जितेन्द्र कुमार जाखड़, डॉ. बी. नाईटिंगेल देवी एवं कर्मचारीगण  रामूलाल कश्यप,  ज्योति राम खरे,  प्रदीप सिंह सिदार,  एम. राम प्रसाद राव, वशिष्ट मुनि गुप्ता एवं अन्य शिक्षक उपस्थित थे।

कलेक्टर ने विद्यार्थियों से चर्चा कर शैक्षणिक गतिविधियों की ली जानकारी

कलेक्टर श्री महोबे ने महाविद्यालय के विद्यार्थियों से चर्चा कर उनकी शैक्षणिक गतिविधियों की जानकारी ली। उन्होंने कहा कि महाविद्यालय में प्रायोगिक के लिए बहुत अच्छी उपकरण की सुविधा दी गई है। इसका उपयोग अधिक से अधिक करना चाहिए। उन्होंने महाविद्यालय की बुनियादी सुविधायें एवं परिसर की सराहना की।उन्होंने मत्स्य क्षेत्र में हो रही प्रगति को देखते हुए छात्र·छात्राओं को खूब मन लगाकर पढ़ने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि लैब के प्रायोगिक उपकरण, पुस्तकालय के लिए पुस्तकें सहित अन्य चीज की जरूरत होगी उसे पूरा किया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×