कवर्धाछत्तीसगढ़

कवर्धा में फिर गरमाया हिंदू महिला और मुस्लिम के बीच मारपीट, विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल ने पुलिस प्रशासन की लापरवाही बरतने का लगाया आरोप

सिटी कोतवाली थाना प्रभारी का दादागीर वीडियो में कैद, विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल ने थाना प्रभारी मोती राम पटेल को तत्काल प्रभाव से हटाने की मांग की

कवर्धा।। विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल ने पुलिस विभाग की नाकामी पर उठाया सवाल कबीरधाम जिला में लगातार अपराध बढ़ रही है वही पर देखा जाए तो कल रात में फिर हिंदू समाज की महिला पर मुस्लिम समाज के लोगो द्वारा मारने की घटना सामने आई है।

जी हां हम आपको बताते हैं कि, घराना कैसे हुई , यह मामला कवर्धा के वॉर्ड नंबर 22 जमात पारा की हैं, उस मोहल्ले में 2 से 3 परिवार सिर्फ हिंदू लोग निवास करते हैं और शेष परिवार मुस्लमान परिवार निवास करते हैं।
दो बच्चो की आपस में लड़ाई हुई थी , अचानक वाद विवाद ज्यादा बड़ गया, फिर मुस्लिम परिवार के कुछ लोग महिला को ईट पत्थर से अचानक मारने लगे जिसकी सीसीटीआई में रिकॉर्ड भी हुआ है,जिसकी सूचना और रिपोर्ट दर्ज कराने महिला सिटी कोतवाली पहुंची ।
लेकिन पीड़ित महिला की रिर्पोट लिखने से थाना प्रभारी मोती राम पटेल इंकार किया और महिला रोते बिल्कते अपने घर वापस लौट गई, जिसके कारण ऐसा माहौल उत्पन्न । इस बीच पीड़ित महिला के घर में मुस्लिम परिवार द्वारा घर को घेराबंदी कर लिया गया था, और उनके पति को भी घेर कर रहे हुए थे।

इस दौरान महिला द्वारा कुछ अपने रिश्ते दार के साथ पुनः थाना पहुंची और महिला ने पत्रकार को फोन कर रोते हुए थाना आना की बात कही। महिला ने टी आई को रिपोर्ट दर्ज करने की बात कही, तो फिर से अभद्र व्यवहार किया गया साथ ही पत्रकार द्वारा वीडियो बनाया जा रहा था तो,टी आई द्वारा ऊंचे स्वर में अभद्र व्यवहार किया, उसी बीच में बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद के लोग पहुंचे ,और जैसे श्री राम का जमकर नारेबाजी भी हुई। फिर कुछ देर बाद पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव और अतरिक्त पुलिस अधीक्षक हरिश राठौर सिटी कोतवाली पहुंचे और मामले को गंभीरता से पुलिस अधीक्षक सुने और शांत किया गया।और महिला की रिर्पोट लिखा है।
मामले में अगर पहले ही, टी आई द्वारा महिला की रिर्पोट लिखा गया होता तो, ऐसा माहौल नही बना होता , बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद के लोग टी आई को तत्काल प्रभाव से जिले से हटाने की मांग । कवर्धा में हो रहे लगातार घटना की जिम्मेदार पुलिस प्रशासन को डहराया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×