कवर्धाक्राइमछत्तीसगढ़राजनीति

कवर्धा कोरोना के साथ विश्व रिकॉर्ड बनाने की तैयारी में, जिला प्रशासन वायरस को दे रहे निमंत्रण…

कवर्धा। श्री रूद्र महायज्ञ, श्रीमद्भागवत ज्ञान सप्ताह, श्री रामकथा और स्वामी रामदेव बाबा के सान्निध्य में आयोजित होने वाली विशाल योग शिविर का आज रविवार को गणेश तिवारी व नेहा तिवारी के द्वारा आज आपने निज निवास पर भूमिपूजन कार्यक्रम संपन्न किया।

इस कार्यक्रम में किसी ने भी मास्क और सैनिटाइजर का उपयोग नही किये थे। जिसे आप फोटो के माध्यम से देख सकते हैं।

 

बता दें कि कवर्धा सहित जिले में कोरोना वायरस तेजी से बढ़ रहा है जिसके लिए कवर्धा नगर पालिका के सीएमओ ने नगरपालिका क्षेत्र के सभी निवासियों को एक पत्र जारी किया है और कहा है कि लगातार सैनिटाइजर मास्क का उपयोग करें भीड़भाड़ से बचें .
पढ़े लेटर.

वही संजय अग्रवाल ने बताया कि 7 मई से 15 मई तक होने वाले श्री रूद्र महायज्ञ की इस भव्य आयोजन में एक दो नहीं, चार विश्व रिकार्ड बनने वाला है। कार्यक्रम के पहले ही दिन कलश यात्रा में 11000 बहनों का एक जैसे परिधानों और कलशों के साथ शोभायात्रा निकलेगी। कलश यात्रा सुबह 8 बजे श्री रामजानकी मंदिर कचहरी पारा से प्रारंभ होगी और गणेशपुरम मारूति शोरूम पहुंचकर संपन्न होगी। करीब 3 किलोमीटर की यह कलश यात्रा भी विश्वरिकार्ड बनेगा। आयोजन के पहले व दूसरे दिन जगतगुरू शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद सरस्वती जी महाराज धर्मसभा लेंगे। वे सनातनी धर्म और उसके सिद्धांतो की महत्ता व सार्वभौमिकता से अवगत कराते हुए उसे आत्मसात करने का महत्व समझाएंगे। वहीं बहुत लोग सूर्योदय नहीं देख पाते। उन्हें प्र्रेरित कर हजारों लोगों को 13 से 15 मई तक स्वामी रामदेव बाबा के सान्निध्य में सुबह 5 बजे से 7.30 बजे तक योग करने का सौभाग्य मिलेगा और वे निरोग रहने के रहस्य से परिचित हो सकेंगे। इसके साथ ही 7 से 13 मई तक प्रतिदिन दोपहर एक बजे से श्रीमद् भागवत ज्ञान यज्ञ सप्ताह रखा गया है। जिसमें चित्रकूट से पहुंचे स्वामी राजीवलोचन की वाणी और दिव्य ज्ञान से क्षेत्रवासी लाभांवित हो सकेंगे। चित्रकूट धाम से ही पहुंचे स्वामी रामास्वरूपाचार्य जी महाराज द्वारा रामकथा की भक्ति धारा प्रतिदिन शाम 4 बजे से प्रवाहित होगी। पतंजलि किसान सेवा समिति प्रदेश राज्यप्रभारी गणेश तिवारी एवं कार्यक्रम की आयोजक ने जिले के समस्त धर्मानुरागियों एवं धर्मिक संगठनों के सदस्यों से कार्यक्रम को भव्यता प्रदान करने की अपील की है।
अब संजय अग्रवाल के बताए अनुसार इतनी ज्यादा संख्या में लोग वहां पहुंचेंगे तो क्या स्थिति रहेगा क्या कोरोना वायरस बढ़ेगा या थमेगा यह कहा जा नहीं सकता हालांकि अग्रवाल ने कहा कि शासन के गाइडलाइन के अनुसार संपूर्ण तैयारी कर ली गई है। सभी गाइडलाइन का पालन किया जाएगा। पर क्या यह सही है .

भारत सरकार के प्रधानमंत्री स्वयं नरेंद्र मोदी जी कोरोना वायरस को लेकर लगातार लोगों से अपील करते नजर आ रहे हैं लेकिन यहां उन्हीं के चाहने वाले कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए भी इस तरह के आयोजन कराने आतुर हैं.

बता दें कि हम किसी प्रकार से किसी धर्म या किसी ग्रुप या किसी संस्था का आयोजन का विरोध नहीं करते हमारे द्वारा लिखी गई खबर शासन के गाइडलाइन के अनुसार है…

आगे अपडेट के लिए बने रहे हमारे साथ…

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close
Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×