कवर्धाराजनीति

वनांचल के गौठानों का हाल बेहाल – अशोक साहू

कवर्धा। भाजपा संगठन के महत्वपूर्ण कार्यक्रम ‘चलबो गोठान, खोलबो पोल’ के तहत पूरे प्रदेश की तरह कवर्धा में भी सभी नेता अपने सौंपे गए क्षेत्रों में भ्रमण कर गौठान की स्थिति का प्रत्यक्ष अवलोकन कर रहे हैं. कवर्धा के पूर्व विधायक अशोक साहू को वनांचल के रेंगाखार मंडल का दायित्व प्रदेश भाजपा द्वारा सौंपा गया है. जिसके अंतर्गत आज श्री साहू ने बोदलपानी, सुबखार, बम्हनी, अंजना,समनापुर, बरबसपुर, तितरी, सिवनी, बरेंडा और रेंगखार के गौठानों का ग्रामीणों की उपस्थिति में निरीक्षण किया।

उन्होंने पाया कि सरकारी फाइलों में यहां लाखों रुपए कर खर्च कर गौठान का निर्माण किया गया है, लेकिन यहां न ही गाय है और न ही यहां कम्पोस्ट खाद बनता है। जबकि गोठान में 300 गाय रखने का नियम हैं। कुछ गौठानों में तो एक भी गाय नहीं है। गोठान में गोबर खरीदी नहीं होता है, न ही कम्पोस्ट खाद बनाया जा रहा है। उसके बावजूद भी रिकार्ड में कम्पोस्ट खाद सोसाइटी में बेचा गया है।
श्री साहू ने बताया है कि गोठान का निरीक्षण करने पर पाया गया कि गोठान में पैरा नहीं है,ग्रामीणों ने इस गोठान की लागत लगभग 20 लाख बता रहे थे जबकि इतने का काम कहीं दिखता नहीं है। निरीक्षण करने से भूपेश बघेल सरकार की सारी पोल खुल गई है। गोठान में पूरी तरह अव्यवस्था का आलम है. कुलमिलाकर गौठान के नाम पर भूपेश बघेल की सरकार ने भारी भ्रष्टाचार किया है, जो पूरे प्रदेश में लगभग 1300 करोड़ रुपयों से ज्यादा का है. महिला स्व सहायता समूह की महिलाएं भी भटक रही हैं. पूर्व विधायक अशोक साहू के नेतृत्व में जिला उपाध्यक्ष राजेंद्र चंद्रवंशी, मंडल अध्यक्ष मंगलू परते, कमलेश मेरावी, पन्ना अग्रवाल, भूप सिंह, गोप सिंह,घनश्याम ने भूपेश बघेल ने जिस सुनियोजित तरीके से इतनी बड़ी राशि का बंदर बांट किया है, उस विषय को ग्रामीणों के बीच रखकर उनसे इन गौठानों का पंचनामा भी तैयार किया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also
Close
Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×