कवर्धा

उल्लास नवभारत साक्षरता मूल्यांकन परीक्षा में आत्म समर्पित नक्सलियों ने भी भाग लिया

कवर्धा।  जिले के 232 केन्द्रों में उल्लास नव भारत साक्षरता कार्यक्रम के अंतर्गत  राष्ट्रव्यापी बुनियादी साक्षरता एवं संख्यात्मक ज्ञान मूल्यांकन परीक्षा का आयोजन हुआ। I जिसमें सर्वे के अनुसार चिन्हांकित किए गए शिक्षार्थियों ने भाग लिया।

बड़ी बात यह है इस परीक्षा महाभियान में 06 आत्मसमर्पित नक्सलियों ने भी शामिल होकर तीन घंटे तक परीक्षा दिलाई। कवर्धा स्थित सतबहिनिया वार्ड शासकीय प्राथमिक शाला परीक्षा केंद्र में ठीक साढ़े दस बजे उनका प्रवेश हुआ । उनके उत्साहवर्धन के लिए कलेक्टर  जनमेजय महोबे, पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव तथा मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत  संदीप कुमार अग्रवाल पहुंचे। उन्होंने परीक्षा कक्ष की न केवल मॉनिटरिंग की बल्कि शिक्षा के माध्यम से उन्हें आगे बढ़ने हेतु प्रेरित करते हुए उन्हें शुभकामनाएं दीं। इसके पूर्व जिला परियोजना अधिकारी अवधेश नंदन श्रीवास्तव ने सभी शिक्षार्थियों का स्वागत किया।

इस अवसर पर कलेक्टर  जन्मेजय महोबे ने कहा कि शिक्षा प्राप्त करना प्रत्येक नागरिक का मौलिक अधिकार है और इस संवैधानिक अधिकार से किसी को भी वंचित नहीं किया जा सकता। बल्कि उन्हें प्रोत्साहित करना हमारा कर्तव्य है। पुलिस अधीक्षक डॉ अभिषेक पल्लव ने कहा कि हम सामुदायिक पुलिसिंग के माध्यम से अनेक जन जागरूकता का कार्यक्रम करते ही हैं। अन्य कार्यों के साथ साथ शिक्षा  पर भी विशेष ध्यान दिया जाना बहुत आवश्यक है और हम वही प्रयास कर रहे हैं ताकि कोई वर्ग इससे वंचित न रहे।

मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत  संदीप कुमार अग्रवाल ने कहा कि आज एक साथ हमारे जिले के सभी 232 परीक्षा केंद्रों में इस मूल्यांकन परीक्षा का आयोजन हो रहा है जिसमें सभी 4000  शिक्षार्थियों को परीक्षा में बिठाने के लिए हमारे विभागीय अधिकारी, शिक्षक और स्वयंसेवी शिक्षक घर-घर संपर्क कर रहे हैं इसमें हमें समुदाय का व्यापक सहयोग मिल रहा है । शाम 04 बजे की स्थिति में 55 प्रतिशत शिक्षार्थी प्रविष्ट हुए माह नवम्बर  में शेष शिक्षार्थियों को परीक्षा में बिठाया जाएगा।
जिला मॉनिटरिंग टीम के सदस्य डाइट प्राचार्य टी एन मिश्रा, सहायक संचालक महेन्द्र गुप्ता, जिला परियोजना अधिकारी अवधेश नंदन श्रीवास्तव, नोडल अधिकारी संजय गुप्ता रिसोर्स पर्सन नरेन्द्र सिंह राजपूत एवम मालती गर्ग द्वारा मॉनिटरिंग की गई।

विदित हो कि फाउंडेशनल  लिटरेसी एंड न्यूमेरेसी के तहत न्यूनतम बुनियादी  शिक्षा हर व्यक्ति को प्राप्त हो इसके लिए व्यापक प्रयास किए जा रहे हैं। आने वाले समय में हमारे स्वंयसेवी शिक्षक शेष शिक्षार्थियों को इसका समुचित ज्ञान कराएंगे ताकि वे परीक्षा में प्रविष्ट हो सकें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
×

Powered by WhatsApp Chat

×